ज़ूमकार ने अपने सबस्क्राइबर्स के लिए कोविड-19 की वजह से राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान मौद्रिक राहत बढ़ाई

टेक्नोलॉजी

अपने उपभोक्ताओं के साथ बोझ साझा करने के लिए अस्थायी सदस्यता विकल्प प्रदान किया

नई दिल्लीः 20 अप्रैल 2020 : (बंगलौर) राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की अवधि बढ़ चुकी है और इसके बीच अपने शेयर्ड सबस्क्रिप्शन प्रोग्राम के ग्राहकों को सपोर्ट प्रदान करते हुए भारत के सबसे बड़े सेल्फ ड्राइव मोबिलिटी प्लेटफॉर्म ज़ूमकार ने उनके साथ बोझ साझा करने के लिए पहल की है। चूंकि, ग्राहक केंद्र सरकार द्वारा घोषित विस्तारित लॉकडाउन अवधि के कारण अपने वाहन का उपयोग करने में असमर्थ होंगे, इसलिए कंपनी ने अपने सबस्क्रिप्शन प्रोग्राम में तीन अस्थायी विकल्प पेश किए हैं।

ज़ूमकार सबस्क्रिप्शन फी में 1 महीने की छूट की पेशकश करेगा, जो औसत 25 हजार रुपए की राशि होगी। इसके लिए उन्हें अप्रैल महीने के किसी भी बकाया का भुगतान करना होगा और मई के लिए उनका शुल्क माफ कर दिया जाएगा। ग्राहक की जेब के लिए और अधिक आसान बनाते हुए दूसरा विकल्प उन्हें मार्च और अप्रैल में 21-दिन के लॉकडाउन की पूरी अवधि के लिए पूर्ण छूट का लाभ उठाने की अनुमति देता है। इसके अलावा, वे अपनी देय राशि में से 50 प्रतिशत का भुगतान दो महीने के लिए टालने का विकल्प भी चुन सकते हैं।

ज़ूमकार सबस्क्राइबर्स को बिना किसी दंड (कुछ मामलों में जुर्माने पर छूट) के बिना सबस्क्रिप्शन समाप्त करने का विकल्प भी दे रहा है, यदि सबस्क्राइबर कारों के भविष्य के इस्तेमाल को लेकर अनिश्चित हैं।

हालिया घटनाक्रम पर टिप्पणी करते हुए ज़ूमकार के सीईओ और सह-संस्थापक ग्रेग मोरन ने कहा, “कोरोनो वायरस महामारी ने दुनिया को बड़े पैमाने पर प्रभावित किया है। यह मूल आजीविका को प्रभावित कर रहा है और यह समय व्यवसायों के लिए भी चुनौतीपूर्ण बन रहा है, ज़ूमकार में हम यह सुनिश्चित करने के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध हैं कि हमारे ग्राहकों की उनके वाहनों तक निर्बाध पहुंच उपलब्ध हो। इस अवधि में सहयोग की भावना से हम अपने ग्राहकों के साथ बोझ को बांटने को लेकर खुश हैं और इसलिए इस समय में उन्हें प्रबंधित करने में मदद के लिए महत्वपूर्ण उपाय पेश किए हैं। हम धीरे-धीरे सामान्य स्थिति में लौट आएंगे और ये लचीली ऑफरिंग्स हमारे ग्राहकों को हमारी सेवाओं के श्रेष्ठतम इस्तेमाल के लिए सक्षम करेगी।”

ज़ूमकार के बारे में

ज़ूमकार ने 2013 में कार शेयरिंग सेवाओं की शुरुआत के साथ भारत का पहला सेल्फ-ड्राइव मोबिलिटी प्लेटफॉर्म होने का गौरव प्राप्त किया और आज 10,000 से अधिक कारों के साथ सेल्फ-ड्राइव स्पेस में यह मार्केट लीडर है। मोबाइल अनुभव पर मजबूत फोकस के साथ ज़ूमकार यूजर्स को घंटे, दिन, सप्ताह या महीने के हिसाब से कारों को किराए पर लेने की अनुमति देता है। ज़ूमकार का मुख्यालय बंगलौर में है और इसमें 250 से अधिक लोगों की एक मजबूत टीम काम करती है। पूरे भारत में 45+ शहरों में यह संचालित हो रहा है। 2018 में ज़ूमकार ने अपने शेयर्ड सबस्क्राइबर मोबिलिटी मॉडल के लॉन्च के साथ कारों के लिए भारत का पहला पीयर2पीयर बेस्ड मार्केटप्लेस पेश किया और वर्तमान में इस स्पेस में 90% से अधिक मार्केट शेयर इसके पास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *