शरीर को बीमारी से लड़ने की ताकत देंगी ये 15 चीजें, डाइट में करें शामिल

ज़ायका

अपने खानपान में बदलाव करें और उन चीजों को शामिल करें जो इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाती हैं. कमजोर इम्यूनिटी वाले आसानी से किसी भी फ्लू की चपेट में आ जाते हैं.

नई दिल्ली मार्च 24, 2020: कमजोर इम्यूनिटी वाले लोग आसानी से वायरस का शिकार हो जाते हैं. ऐसे में शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खान-पान का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है. कोराना वायरस की चपेट में आने वाले ज्यादातर लोग भी वहीं हैं जिनका इम्यूनिटी सिस्टम कमजोर है, जो कि बच्चों और बुजुर्गों में आम तौर पर देखा जाता है. आइए जानते हैं कि कौन से फूड शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करते हैं.

खट्टे फल- अधिकतर रोगों में डॉक्टर मरीज को सिट्रस फ्रूट्स यानी खट्टे फल खाने की सलाह देते हैं. विटामिन सी इम्यून सिस्टम बढ़ाता है और कोल्ड-कफ से लड़ने के लिए शरीर को मजूबत बनाता है. सिट्रस फ्रूट्स में अंगूर, संतरे, कीनू, नींबू आते हैं. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आपको इन फलों का नियमित सेवन करना चाहिए.

लाल शिमला मिर्च- खट्टे फलों की तुलना में लाल शिमला मिर्च दोगुना विटामिन सी होता है. इसमें प्रचुर मात्रा में बीटा कैरोटीन भी पाया जाता है. इम्यून सिस्टम बढ़ाने के अलावा, विटामिन सी त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है. बीटा कैरोटीन आपकी आंखों को सही रखता है.

ब्रोकली- ब्रोकली में ब्रोकली में विटामिन A, C और E के साथ-साथ कई अन्य एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर भी पाए जाते हैं. ब्रोकोली सबसे सेहतमंद सब्जियों में से एक है. इसमें प्रोटीन, कैल्शियमस कार्बोहाइड्रेट और कई दूसरे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं.

अदरक- अदरक में भई कई तरह के एंटी वायरल तत्व पाए जाते हैं. इसलिए अपने खाने-पीने की चीजों में इसे जरूर शामिल करें. सौंफ या शहद के साथ इसका सेवन करने से इसके परिणाम ज्यादा बेहतर होंगे. दिन में 3-4 बार अदरक का सेवन करने से आपका इम्यून सिस्टम अच्छा रहेगा.

लहसुन- लहसुन में भी कई तरह के एंटी वायरल तत्व पाए जाते हैं. सूप या सलाद के अलावा आप इसे कच्चा भी खा सकते हैं. एक चम्मच शहद के साथ लहसुन का सेवन आपके इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट करने का काम करता है.

तुलसी- इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर बनाने वाले तत्वों से भरपूर तुलसी बेहद गुणकारी है. रोजाना सुबह एक चम्मच तुलसी लेने से आपका इम्यूनिटी सिस्टम बेहतर होता है. 3-4 काली मिर्च और एक चम्मच शहद के साथ इसका सेवन करने से आपके शरीर को रोगों से लड़ने की ताकत मिलती है.

पालक- पालक में ना सिर्फ विटामिन सी बल्कि कई एंटीऑक्सिडेंट और बीटा कैरोटीन भी होता है जो हमारे शरीर में संक्रमण से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है. ब्रोकली की तरह पालक भी उतना ही सेहतमंद होता है. इसके पोषक तत्वों को बनाए रखने के लिए इसे पूरी तरह ना पकाएं.

बादाम- जुकाम से बचाव के लिए शरीर में विटामिन E का होना बहुत जरूरी. विटामिन E इम्यून सिस्टम को स्वस्थ रखता है. बादाम में विटामिन E के साथ-साथ हेल्दी फैट भी पाया जाता है. आधा कप बादाम आपके हर दिन के जरूरतमंद विटामिन मात्रा को पूरा करेगा.

हल्दी- हल्दी को सबसे सेहतमंद मसाला माना जाता है. हल्दी में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं. हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन मांसपेशियों की रक्षा करती है और उसे मजबूत बनाती है.

पपीता- पपीता भी विटामिन सी का अच्छा स्त्रोत है. पपीते में पपेन पाया जाता है जो एक पाचक एंजाइम होता है. पपीते में पोटेशियम, विटामिन बी और फोलेट की अच्छी मात्रा होती है, जो आपके पूरे शरीर के लिए फायदेमंद है.

स्टार सौंफ- खाने की चीजों में जायका बढ़ाने वाली स्टार सौंफ को भी एंटी-वायरल दवा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. इसमें शिकिमिक एसिड पाया जाता है जो इंफ्लूएंजा वायरस से पीड़ित रोगियों को भी दिया जाता है.

बेरीज- अंगूर, ब्लू बेरीज, क्रैनबेरीज, स्ट्रॉबेरीज, कोकोआ, डार्क चॉकलेट जैसी खाने की चीजें न सिर्फ पैराबैंगनी किरणों और फंगल इंफेक्शन के मामले में असरदार हैं, बल्कि ये तमाम तरह के वायरस से भी शरीर की सुरक्षा करते हैं.

नारियल का तेल- घर में खाना बनाते समय सरसों के तेल या रिफाइंड की जगह नारियल के तेल का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर होगा. इसमें लॉरिक एसिड और कैप्रीलिक एसिड होता है जो आपके इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट कर वायरल से सुरक्षा करता है.

योगर्ट- डॉक्टरों का कहना है कि रोजाना योगर्ट खाने से शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती है. योगर्ट मांसपेशियों के खिंचाव में भी आराम पहुंचाता है. योगर्ट खाने से वर्कआउट के बाद की रिकवरी तेजी से होती है.

ग्रीन टी- शरीर को स्वस्थ रखने में ग्रीन टी बहुत कारगर है. ये शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालती है. इसके अलावा पाचन क्रिया को भी दुरुस्त रखती है. रोजाना ग्रीन टी पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *