केवल 1 साल और 11 महीने की उम्र की बच्ची को इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स द्वारा 120 झंडों की पहचान करने के लिए सरहाया गया

देश

नई दिल्ली : के. एस. साराह को केवल 1 साल और 11 महीने की उम्र में 120 झंडों की पहचान करने के लिए इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स द्वारा सम्मानित किया गया जिसमे विश्व के मानचित्र पर 10 और भारत के मानचित्र पर 10 झंडे शामिल थे। के. एस. साराह चेन्नई तमिलनाडु की रहने वाली है। इस लॉकडाऊन के समय में उसकी माँ ने सोचा की ऐसे समय ख़राब करने से अच्छा है कि क्यों न इस समय में कुछ अच्छा सीखा जाए। साराह के पिता अक्सर देश से बाहर घूमते रहते है। साराह डेढ़ साल की उम्र में ही सभी देशों के नाम अच्छे से बोलना सीख गई थी। फिर बहुत सोचने के बाद उन्होंने ये निश्चित किया कि वह उसे विभिन्न देशों के झंडों को पहचानना सीखाएंगे। लेकिन सबसे मुश्किल काम था साराह का झंडों को पहचानते हुए वीडियो बनाना।

साराह की माँ का कहना है कि “सबसे रोमांचक किस्सा रोमानिया और चैड से जुड़ा है, शुरू में उसने चैड के बारे में पढ़ा और एक महीने बाद मैंने उसे रोमानिया के बारे में पढ़ाया और तभी साराह ने मुझसे कहा कि रोमानिया का झंडा तो बिलकुल चैड जैसा है यह सुनकर मैं आश्चर्य चकित रह गई की साराह की मेमोरी कितनी तेज़ है।”

हमारे लिए सबसे मुश्किल काम था साराह का वीडियो बनाना क्योंकि हमें एक बार में 120 झंडों को पहचानते हुए उसका वीडियो बनाना था। साराह बहुत ही शरारती है और वो एक जगह ज़्यादा देर तक नहीं बैठती अगर आप वीडियो देखे तो हमने उसे एक बीन बैग के ऊपर बिठाया है जिसे हमने एक झूले पर रखा है। 

घर में सभी बेहद खुश थे, यह हमारे लिए बहुत ही गर्व का पल था सब यह सुनकर दांग थे की इतनी छोटी सी बच्ची 120 देशों के झंडों को पहचान सकती है।  साराह भी खुश थी पर उसे समझ नहीं आ रहा था कि ये क्या हो रहा है? लेकिन सभी लोग उसकी प्रशंसा कर रहे थे और चॉकलेट दे रहे थे।

1 thought on “केवल 1 साल और 11 महीने की उम्र की बच्ची को इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स द्वारा 120 झंडों की पहचान करने के लिए सरहाया गया

  1. I blog quite often and I really thank you for your information. This article has truly peaked my interest.
    I will take a note of your site and keep checking for new information about once per week.

    I subscribed to your Feed too.

    Have a look at my page – RoyalCBD

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *